जैन धर्म अहिंसा प्रधान धर्म है अहिंसा ही समस्त समस्याओं का समाधान है —-जैन मुनि शिवानंद महाराज

राजस्थान संपादक एवं ब्यूरो चीफ
यतेन्द्र पाण्डेय्

भरतपुर से

यतेन्द्र पाण्डेय् की रिपोर्ट

जैन धर्म अहिंसा प्रधान धर्म है अहिंसा ही समस्त समस्याओं का समाधान है जो भी प्राणी दूसरों को सुखी रखता है वह स्वयं भी सुखी रहता है यदि सुखा साधन चाहिए तो सुख के साधन उपलब्ध कराने ही होंगे यह कहना है परम पूज्य आचार्य गुरुवर 108 श्री वसुनंदी जी महाराज के शिष्य शिवानंद महाराज का। जैन मुनि शिवानंद महाराज ने भुसावर कस्बे में मुनि प्रशमानंद महाराज के साथ भक्ति भाव से मंगल प्रवेश किया। विद्यापीठ रोड से मंगल प्रवेश करते हुए मुनियों का शहीद सुशील कुमार शर्मा फाउंडेशन एवं विप्र फाउंडेशन के प्रदेश सचिव कार्यालय पर फाउंडेशन के प्रदेश संयोजक एवं विप्र फाउंडेशन के सचिव यतेन्द्र पाण्डेय् ने महू मानकर श्रीफल अर्पित किया। कस्बे के श्री आदिनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र मैं पहुंच कर पूर्व से विराजमान मुनि युधिष्ठिर सागर से भेंट की। मुनि युधिष्ठिर सागर ने अतिशय क्षेत्र में हो रहे जीर्णोद्धार एवं नवीन निर्माण आदि को बताते हुए विस्तार रूप से चर्चा की। उपस्थित जैन अनुयायियों को संबोधित करते हुए मुनि शिवानंद महाराज ने कहा कि कोविड-19 कहीं ना कहीं पर का भात करने से जना है उपजित हुआ है। उन्होंने कहा कि कहा जाता है मांसाहार करने से चाइना के जो नगरवासी हैं उनके निमित्त से कोविड की उत्पत्ति हुई है जहां-जहां भी उन जीवाणुओं का प्रवेश हुआ उनके आक्रोश सबको प्रभावित करते रहे महानुभाव धर्म ही सच्चा साथी है धर्म ही सबको जीने का कला सिखाता है। मुनि प्रशमानंद ने अपने उद्बोधन में कहा कि वर्तमान काल में देश की जो स्थिति है बड़ी ही नाजुक दौर से देश गुजर रहा है ऐसी स्थिति में राजा के माध्यम से जो निर्देश होते हैं उन्हें पालन करना ही प्रजा का कर्तव्य होता है ऐसी वर्तमान परिस्थिति आज के प्रजातंत्र में सरकार के द्वारा कोविड-19 के लिए जो प्रयास किए जा रहे हैं उसे हमें आम जनता को अपनी भागीदारी सुरक्षित करने की जरूरत है जैन धर्म एक ऐसा धर्म है इसका पालन निश्चित व्यवस्थित रूप से किया जाए तो प्राणी मात्र को बीमारियों से छुटकारा दिलाया जा सकता है मांसाहार का त्याग चना हुआ जल गर्म जल स्वच्छता दिन में भोजन विशेषकर अपने चारों स्वच्छता का प्रदूषण रहित वातावरण बनाकर आमजन दीर्घायु प्राप्त कर सकते हैं निरंतर अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता अपनाएं हम जान अपने और अपने पड़ोसियों की सुरक्षा में अपनी भूमिका अदा कर विश्व में महामारी से याद दिला सकते हैं। इस अवसर पर संजय जैन दिल्ली, सुमित जैन महवा मिथिलेश जैन, निखिल कुमार खेड़ली विमल जैन अध्यक्ष , खेमचंद जैन, राकेश कुमार ,राजेश कुमार, अशोक कुमार, सहित अनेक जैन अनुयाई उपस्थित रहे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close