अयोध्या राम मंदिर बनेगा दुनिया का सर्वश्रष्ठ स्थान कैलाशानंद गिरी महाराज

ब्यूरो चीफ आर के जोशी 

बरेली। एक धार्मिक आयोजन में सम्मलित होने महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज बरेली पहुंचे। जहां उन्होंने प्रेस को सम्बोधित करते हुए कहा कि अयोध्या दुनिया का सर्वोपरि स्थान बनने जा रहा है। 2024 के लिए मेरा आशिर्वाद मोदी जी के लिए है।

महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि बरेली शहर मेरी कर्म भूमि रही है। अपने जीवन मे आत्मधिक की शुरुआत यही से की है। मैं यहां 3 साल तक आश्रम में रहा हूं। मुझे लगता है कि भारतीय संस्कृति में बरेली का महत्वपूर्ण स्थान रहा है। मैं भारतीय संस्कृति को जनमानस तक पहुंचने का कार्य कर रहा हूं। अयोध्या का राम मंदिर इतिहास का सबसे बड़ा मंदिर बनने जा रहा है। राम मंदिर की भव्यता और दिव्यता अवर्णिये और अनोखी होगी।
एक सवाल धर्म राजनीति से उपर है या नीचे। जबाब में महाराज जी ने कहा कि धर्म हमेशा राजनीति से ऊपर रहा है और हमेशा रहेगा।

उन्होंने कहा कि गोस्वामी तुलसीदास जी ने लिखा कि भगवान राम ने कहा है कि अयोध्या से बढ़कर हमें और कोई स्थान प्रिय नहीं है, जो कि हम सब सनातनियों के लिए बड़े गर्व का विषय है। अयोध्या पूरे देश का सर्वोपरि स्थान बनने जा रहा है। ऐसी भव्यता और दिव्यता 600 साल पहले अहिल्या बाई होलकर के समय में देखने को मिली थी और अब मोदी जी के समय में देखने को मिल रही है। धर्म परम्पराओं को लेकर भारतीय संस्कृति के लिए यदि किसी ने काम किया है तो वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं।

वहीं अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर, उज्जैन में बने महाकाल मंदिर, काशी कारीडोर, केदारनाथ और बद्रीनाथ मंदिर के निर्माण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अहम भूमिका है। ज्ञानव्यापी फैसले को लेकर उन्होंने कहा कि सरकार जांच कर रही है। उज्जैन में बने एक मंदिर में नंदी महाराज ज्ञानव्यापी की तरफ मुख कर खड़े हुए हैं।

जल्द ही इसको लेकर आने वाला फैलसा हमारे पक्ष में होगा। सच्चाई सामने आकर रहेगी। धर्म को बल मिल रहा है। धर्म को गति मिल रही है। सनातन धर्म को बल मिल रहा है। आज ऐसी अनुभूति मिल रही है जो अकल्पनीय है। वगैर विवाद के अयोध्या में मंदिर का निर्माण हो रहा है। आज भी धर्म राजनीति से ऊपर है। इस दौरान निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने कहा कि 23 लाख साधु हैं हमारे अखाड़े में ।

महाराज ने आगे कहा कि बरेली को वह विश्व पटल पर देखना चाहते हैं। बरेली जितने सरल सनातनी लोग कही नहीं है। बरेली में रहकर उन्होंने इन बात की अनुभूति की। बरेली में महात्मा है तो सब कुछ कर सकता है। वह बरेली को पर्यटन व धामिर्क दोनों पटल पर देखना चाहते हैं।बरेली में आध्यात्मिक व पर्यटन पटल में कार्य शुरू हो। प्रेसवार्ता में डॉ अनिल शर्मा, महापौर उमेश गौतम मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन अजय राज शर्मा ने किया।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

Sorry, there are no polls available at the moment.

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close