धौलपुर/ बाड़ी — उप सरपंच निर्वाचन की प्रक्रिया विधिवत सम्पन्न नहीं की गई,बाड़ी उपखंड अधिकारी द्वारा मौके पर जाकर जांच   

धौलपुर/ बाड़ी से

बीरेंद्र चंसौरिया की रिपोर्ट
बाड़ी- 01 अक्टूबर। जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने बताया कि पंचायत समिति बाड़ी की ग्राम पंचायत नगला दूल्हेखां में 29 सितंबर को उप सरपंच का निर्वाचन सम्पन्न हुआ। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत नगला दुल्हेखां के रिटर्निंग अधिकारी द्वारा उप सरपंच के निर्वाचन संबंधी बैठक कार्यवाही पूर्ण होने के पश्चात उप सरपंच के निर्वाचन की घोषणा कर शपथ दिलाकर प्रमाण पत्रा जारी किये जाने के उपरान्त उपखण्ड अधिकारी बाड़ी के संज्ञान में आया कि उप सरपंच निर्वाचन की प्रक्रिया विधिवत सम्पन्न नहीं की गई है। इस तथ्य के आधार पर बाड़ी उपखंड अधिकारी द्वारा मौके पर जाकर जांच की गई जिसमें ग्राम पंचायत नगला दुल्हेखां के रिटर्निंग अधिकारी राजकुमार ओझा व्याख्याता राउमावि धौलपुर, जोनल मजिस्ट्रेट कैलाश चंद खनैतिया समग्र शिक्षा, मतदान दल संख्या 110 प्रथम अधिकारी रविन्द्र कुमार वरिष्ठ अध्यापक हरजूपुरा, रामू सहायक मतदान अधिकारी द्वितीय दल संख्या 112 अध्यापक नगला दुल्हेखां, निर्वाचित सरपंच जैतून बानो पत्नी मुन्ना खां, वार्डपंच राजन देई, श्यामसुंदर,किशन प्यारी,नीरज, नीतू आदि के बयान लिये गए तथा उप सरपंच निर्वाचन प्रक्रिया के समस्त संबंधित दस्तावेजों का अवलोकन कर रिपोर्ट में यह तथ्य अंकित किया गया कि उप सरपंच निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान निर्वाचित 11 वार्डपंच तथा सरपंच सहित कुल 12 व्यक्ति उपस्थित थे। रिकॉर्ड व बयानों से यह भी स्पष्ट है कि सरपंच द्वारा उप सरपंच के निर्वाचन में अपने मत का प्रयोग नहीं किया गया है और न ही उन्हें मतपत्रा जारी किया गया है। उन्होने बताया कि रिटर्निंग अधिकारी ने अपने बयानों में कहा कि मतदान की प्रक्रिया के दौरान उपस्थित वार्डपंचों की पहचान की शिनाख्त नहीं की गई तथा राजन देई वार्ड 1, श्यामसुंदर वार्ड 2,नीरज वार्ड 10, नीतू वार्ड 11 के बयानों से तथ्य निर्विवाद है कि वार्ड संख्या 9 के वार्ड पंच प्रवेंद्र सिंह मतदान प्रक्रिया के दौरान उपस्थित नहीं थे उनका वोट किसी अन्य व्यक्ति द्वारा डाला गया । ममतदान प्रक्रिया के दौरान 10 वार्ड पंचों एवं सरपंच सहित कुल 11 लोग मौजूद थे। इनके लिए बयान तथ्यों व रिकॉर्ड से मेल नहीं खाते क्योंकि उपस्थित रजिस्टर में सभी 11 वार्ड पंचो व सरपंच की उपस्थिति है । साथ ही निर्वाचित सरपंच जैतून बानो व वार्ड पंच किशनप्यारी ने अपने बयानों में यह माना कि उप सरपंच चुनाव प्रक्रिया के दौरान 11 वार्ड पंच व 1 सरपंच उपस्थित थे व सरपंच के अतिरिक्त अन्य सभी उपस्थित वार्ड पंचों द्वारा मतदान का प्रयोग किया गया। जिस अन्य व्यक्ति ने गलत तरीके से मतदान का प्रयोग किया है उस संबंधित व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए है। उन्होंने बताया कि उपखण्ड अधिकारी बाड़ी के द्वारा की गई। जांच और तथ्यों से यह तथ्य निर्विवाद है कि निर्वाचन प्रक्रिया का विधिवत रूप से पालन नहीं किया गया और न ही सजगता के साथ चुनाव निर्देशों की पालना की गई है । यह भी स्पष्ट हुआ कि वार्ड संख्या 9 के वार्डपंच प्रवेंद्र के स्थान पर किसी अन्य व्यक्ति द्वारा मत का प्रयोग किया गया है। उपखण्ड अधिकारी बाड़ी से 29 सितंबर को जांच रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद 30 सितंबर को नगला दुल्हेखां के ग्रामीणों द्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी धौलपुर को उप सरपंच के निर्वाचन को दोषपूर्ण मानते हुए पुनः निर्वाचन कराने का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया। प्रार्थना पत्रा के आधार पर प्रवेंद्र कुमार वार्ड संख्या 9 से निर्विरोध वार्डपंच निर्वाचित हुए का सपथ पत्र प्रस्तुत किया गया साथ ही अनुपस्थित होने के बयान भी अंकित किया गये है। उन्होने बताया कि यह स्पष्ट होता है कि मतदान प्रक्रिया में 10 वार्डपंच सहित सरपंच व एक अन्य व्यक्ति ने उप सरपंच निर्वाचन प्रक्रिया में भाग लिया जिनके उपसरपंच निर्वाचन प्रमाण पत्रा, नोटिस प्राप्ति रजिस्टर,उपसरपंच हेतु उपस्थित रजिस्टर में प्रवेंद्र के नाम के समक्ष हस्ताक्षर मौजूद है किन्त उस अन्य व्यक्ति की पहचान के संबंध में कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं पाए जाने तथा निर्वाचन प्रक्रिया का पालन सजगता से नहीं किये जाने और निर्वाचन प्रक्रिया के निर्देशों की पालना नहीं किये जाने के कारण जिले की पंचायत समिति बाड़ी की ग्राम पंचायत नगला दुल्हेखां का उप सरपंच के निर्वाचन को निरस्त करने एवं पुनः निर्वाचन कराये जाने की अभिशंषा निर्वाचन आयोग को भेजी गई है ।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close