वैर उपखंड —– गांव रायपुर के लाड़ले वीर सपूत शहीद सूबेदार राजेन्द्र सिंह गुर्जर के अंतिम यात्रा में भारी जनसैलाब उमडा

भरतपुर संभाग व्यूरो चीफ,यतेन्द्र पाण्डेय्

वैर/भरतपुर से

महेश पाठक की रिपोर्ट

वैर उपखंड —– गांव रायपुर के लाड़ले वीर सपूत शहीद सूबेदार राजेन्द्र सिंह गुर्जर के अंतिम यात्रा में भारी जनसैलाब उमड़ पड़ा।बुधवार को जैसे ही लाड़ले शहीद सूबेदार राजेन्द्र गुर्जर की पार्थिव देह वैर थाने पहुंची।राज.पुलिस के जवानों ने सलामी देकर शहीद की पार्थिव देह का सम्मान किया।वहीं कस्बे के लोगो ने आखें भी नम कर नमन किया।उसके बाद सैनिक व शहीद वाहन काफिले के साथ गांव रायपुर पहुंचे जहां शहीद के निवास पर पहले से ही काफी संख्या में लोग पार्थिव देह का नम आखों से इंतजार कर रहे थे। गांव का पूरा माहौल गमगीन हो चुका था। शव के घर पहुंचते ही परिजनों के धेर्य का बांध टूट पड़ा।सोमवार शाम को ही सूबेदार सिंह के शहीद होने की खबर गांव सहित आसपास के गांवों में आग की तरह फ़ैल गई।लेकिन शहीद के परिवार की महिलाओं व बच्चो को नहीं बताया गया।जब उन्हें पता लगा लाड़ला सपूत राजेन्द्र हमेशा के लिए हम से अलविदा ले गया, महिला व बच्चों का रो रो कर बुरा हाल हो गया।
शहीद निवास पर परिजनों को दर्शन कराने के बाद अंतिम यात्रा निकाली गई। जिसमें हजारों की संख्या में महिला पुरुषों का जनसैलाब उमड़ पड़ा।भारत माता के जय घोष के साथ राजेंद्र सिंह अमर रहे के नारे लगाते हुए शहीद स्थल पहुंचे।जहां 25 राजपूत यूनिट के सूबेदार सुरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।सैनिक टुकड़ी ने शहीद के सम्मान में गार्ड ऑफ ऑनर दियाव 3 राउंड गोलियां चलाकर सम्मान किया।इस अवसर पर राज्यमंत्री भजन लाल जाटव , सांसद रंजीता कोली ,डीएम नथमल डिडेल एसडीएम अमित वर्मा,CO निहाल सिंह,CI हरलाल सिंह, तहसीलदार सुरेश कुमार,बीडीओ सुरेश बागौरिया सहित जन प्रतिनिधियों व अधिकारियो पूर्व सैनिकों ने पुष्प चक्र अर्पित किए।अंतिम संस्कार में गांव रायपुर के महिला पुरुष सहित आसपास के लोगों ने भाग लिया।सोमवार को अरुणाचल प्रदेश में सैनिक वाहन के खाई में गिरने से हुए गांव रायपुर निवासी सूबेदार राजेन्द्र सिंह गुर्जर की मृत्यु हो गई थी।जो 25 राजपूत बटालियन में अरुणाचल प्रदेश में चीन की सीमा में तैनात थे।राजेंद्र 24 बर्ष पूर्व सेना में भर्ती हुए थे और उनकी तीन संताने है ।सबसे बड़ी पुत्री मनीषा व बड़ा बेटा राहुल छोटा बेटा सुखवेंदर सिंह है।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close