मोदी सरकार द्वारा कोरोना काल में बनाए गए तीनों कृषि कानून कृषि और किसान सहित उपभोक्ता विरोधी हैं —किसान नेता इंदल सिंह जाट

भुसावर से अन्नू जोशी की रिपोर्ट

भुसावर —-किसान दिवस के अवसर पर किसान नेता इंदल सिंह जाट ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा कोरोना काल में बनाए गए तीनों कृषि कानून कृषि और किसान सहित उपभोक्ता विरोधी हैं।

किसान नेता इंदल सिंह जाट देश के सर्वोच्च किसान नेता और पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के 118 के जन्मदिवस किसान दिवस के अवसर पर भुसावर तहसील में के ग्राम तरकमा मैं आयोजित किसान बैठक में बोल रहे थे ।उन्होंने कहा कि देश में संघर्ष कर रहे किसान केवल उनके लिए ही नहीं अपितु उन सभी उपभोक्ताओं के लिए भी केंद्र सरकार से लड़ रहे हैं जो जमाखोरी और बढ़ती कीमतों से परेशान हैं ।इंदल सिंह ने कहा कि जमाखोरी को असीमित खोल देने से जमाखोर बाजार और मंडियों पर हावी हो जाएंगे जो बाद में मुंहभागे मूल्यों पर कृषि उत्पादों को बाजार में बेचेंगे ।
किसानों ने किसान दिवस के मौके पर किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए किसानों ने तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की ।इस बैठक में किसानों ने ईस्टर्न राजस्थान कैनल प्रोजेक्ट को भी केंद्र सरकार द्वारा शीघ्र ही राष्ट्रीय प्रोजेक्ट के तौर पर स्वीकृती देने की मांग करते हुए कहा कि

भरतपुर जिले में सिंचाई के पानी का कोई इंतजाम नहीं है। खेती बंजर पड़ी हुई है गहरे ट्यूबवेल भी सूख रहे हैं ।गांव में पेयजल का संकट है ।इंदल सिंह ने कहा कि राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट में होने वाली दो लाख हेक्टेयर कृषि भूमि की सिंचाई में ही सलेमपुर कला और बल्लमगढ़ सर्किल को जोड़ा जाए ।उन्होंने एनसीआर के नाम पर किसानों के ट्रैक्टर आदि पर लगी पाबंदी आदि को भी समाप्त करने की मांग की ।स्व.चौधरी चरण सिंह की जयंती के अवसर पर किसानों ने बिजली विभाग पर भी किसान मजदूर और व्यापारियों का बिजली चोरी और बी सी आर कारने पर मनमानी और खुली लूट करने का आरोप लगाते हुए कहा कि समझौता समितियां सहायक अभियंता स्तर पर बने तथा विद्युत समझौता समितियों को ब्लॉक बार किसानों को सदस्य बनाया जाए ।
इस मौके पर किसानों ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के चित्र पर माला एवं पुष्प चढ़ाए और किसानों को किए उनके कार्य की सराहना की इस अवसर पर ग्रामीण महिलाओं ने केंद्र सरकार को सद्बुद्धि देने और तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए हरि कीर्तन का आयोजन किया और किसान आंदोलन को परम पिता ईश्वर से ताकत देने की प्रार्थना की ।
किसान बैठक में मोहन सिंह पूर्व उप, रामादेवी वर्तमान सरपंच, घीसौली पूर्व सरपंच, हरि सिंह तिलचवी, कप्तान सरपंच, इंदल सिंह पूर्व जिला परिषद सदस्य, खुबीराम हवलदार, विश्राम हवलदार, बाबू सिंह, राम लखन, बच्चू सिंह डीलर, श्याम सिंह, दान सिंह, मुंशी, अमर सिंह, भगती पूर्व मेंबर, रामरतन, फतेह सिंह, भगवान सिंह।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

Sorry, there are no polls available at the moment.

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close