रायपुर अतिक्रमण मामला राजनीतिक रोटियां सेक रहे नेताओं को लगा झटका, डॉ जितेंद्र सिंह गृह सुरक्षा राज्यमंत्री भजन लाल जाटव , विधायक अवाना के प्रयासों से पीड़ितों की मांग हुई पूरी,पीडित परिवार के सदस्यों ने मांग पूरी होने पर हाइवे जाम करने का निर्णय बदला,उपखंड अधिकारी पर गिरी गाज , हुआ स्थानान्तरण

राजस्थान संपादक यतेन्द्र पाण्डेय् की रिपोर्ट

भरतपुर —जिले के वैर उपखंड के गांव रायपुर में अतिक्रमण मामले में हुई कार्यवाही को लेकर पुलिस प्रशासन एवं ग्रामीण आमने-सामने हो गए थे। जिसमें ग्रामीणों द्वारा पत्थर फेंकने एवं पुलिस द्वारा बचाव में आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंची जेसीबी सहित अन्य वाहनों के शीशे भी टूटे थे। इस पर ग्रामीणों की ओर से पुलिस थाना वैर में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी ।वही कुछ लोगों द्वारा रायपुर गांव में बिना स्वीकृति के महापंचायत का आयोजन किया गया था। जिसकी प्राथमिकी उपखंड अधिकारी ने दर्ज कराई। पीड़ित परिवारों की ओर से 3 सूत्री मांग पत्र रखा गया जिसमें जिला प्रशासन की ओर से वन विभाग के स्थानीय कर्मचारियों का स्थानांतरण तुरंत प्रभाव से कर दिया गया था। मंगलवार को वैर भुसावर विधायक एवं गृह सुरक्षा राज्यमंत्री भजन लाल जाटव पूर्व मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह सहित रायपुर पहुंचे पीड़ित परिवारों की समझायश,इसकी और राज्य सरकार की ओर से दिए गए आश्वासन पर उपखंड अधिकारी के स्थानांतरण की मांग पर मंगलवार को राज्य सरकार ने फैसला करते हुए वर्मा का स्थानांतरण कर दिया गया। इस पर 20 जनवरी को नेशनल हाइवे पर किये जाने वाले जाम को स्थगित किया गया।

नदबई विधायक जोगेन्द्र अवाना व गुर्जर नेता विजय बैंसला ने भौडागांव में बैठक की जिसमें पूर्व सरपंच सुहास दरबारी गुर्जर व गुर्जर नेता यादराम मौरोली सहित अनेक पंच पटेलो ने 20 तारीख को नेशनल हाईवे जाम करने के निर्णय को वापिस ले लिया ।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close