गुरु गोविंद सिंह जी महाराज का 354वां प्रकाशोत्सव व अखंड पाठ का भोग आज, सजाया दीवान

सूरतगढ़ से गोविंद भार्गव की रिपोर्ट

चिड़ियों से मैं बाज लड़ाऊं,
गिधों से मैं शेर बनाऊं,सवा लाख से एक लड़ाऊं, तभी गोविंद सिंह नाम कहाऊ,

सूरतगढ —- आज गुरु गोविंद सिंह जी महाराज की 354वीं जयंती बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। गुरु सिंह सभा गुरद्वारा के प्रमुख सेवादार प्रीतम सिंह गिल ने बताया कि इससे पूर्व मंगलवार को श्री गुरु सिंह सभा गुरद्वारा से पंच प्यारों की अगुवाई में नगर कीर्तन निकाला गया नगर कीर्तन में महिला व पुरुषों द्वारा झाड़ू से मार्ग को साफ किया गया।
ट्रैक्टर ट्राली में बैठी सगत द्वारा वाहेगुरु वाहेगुरु का जाप किया गया। तथा गतका पार्टी ग्रुप के द्वारा विभिन्न चौराहों पर अपने हैरत करतब दिखाए गये।
सर पर नारियल में आग लगाकर तोड़ना, सीने पर पत्थर रखकर तोड़ना, आदि करतब साथ संगत में प्रस्तुत किए। नगर कीर्तन शहर के मुख्य मार्गो से होती हुई वापस गुरु सिंह सभा गुरद्वारा विसर्जन की गई ।इस मौके पर बाजार में भिन्न-भिन्न चौराहे पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया तथा चाय नाश्ते का कार्यक्रम रखा गया।आज बुधवार को श्री गुरु सिंह सभा गुरद्वारा में दीवान सजाया तथा गुरतेज सिंह सांतासिंहसभा गुरद्वारा सूरतगढ़ व तरसेम सिंह मंड अमृतसर वालों ने कीर्तन का गुणगान किया तथा इसके बाद अटूट लंगर बरताया गया।जिसमें शहर के हजारों की संख्या मे लोगोंं ने लंगर प्रसाद ग्रहण किया।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close