उप्र के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने सपत्नीक महायज्ञ में डालीं आहुतियां, जगद्गुरु से लिया आशीर्वाद,शंकराचार्य आश्रम में चल रहे महायज्ञ में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी

उत्तर प्रदेश प्रभारी एवं ब्यूरो चीफ
यतेन्द्र पाण्डेय्
गोवर्धन, (मथुरा) उत्तर प्रदेश से

मनीष शर्मा की रिपोर्ट

मथुरा —गोवर्धन स्थित शंकराचार्य आश्रम में चल रहे वैदिक अनुष्ठान व महायज्ञ में देश भर से श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी है। आज उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने सपत्नीक महायज्ञ में आहुतियां डालीं और गोवर्धन पुरी पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ से आशीर्वाद लिया।

प्रदेश के कानून मंत्री अपनी पत्नी नम्रता पाठक के साथ आज शंकराचार्य आश्रम पहुंचे। सर्वप्रथम उन्होंने श्रीआद्य शंकराचार्य भगवान की चरण पादुका का पूजन किया। फिर गोवर्धन पुरी पीठ के ब्राह्मलीन शंकराचार्य स्वामी श्री निरंजनदेवतीर्थ जी महाराज के चित्र पर माल्यार्पण कर वर्तमान पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी श्री अधोक्षजानंद देवतीर्थ जी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया।

इसके बाद यज्ञशाला में जाकर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ने सपत्नीक महायज्ञ में भाग लिया। यज्ञशाला में स्थापित गौरी गणेश, नवग्रह, क्षेत्रपाल, दश दिक्पाल और सर्वतोभद्र देवमंडल का उन्होंने विधि विधान से पूजन किया और रुद्राभिषेक के पश्चात् महायज्ञ में आहुतियां डालीं।

इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना काल में गोवर्धन स्थित शंकराचार्य आश्रम में जगद्गुरु देवतीर्थ के सानिध्य में चल रहे वैदिक अनुष्ठान और महायज्ञ से लोगों को इस समय बड़ा ही आध्यात्मिक बल दे रहा है। उन्होंने कहा कि हवन यज्ञ से जहां वातावरण शुद्ध होता है, वहीं ये अनुष्ठान मन को शांति और आध्यात्मिक चेतना प्रदान करते हैं।

गौरतलब है कि विश्व शांति एवं वैश्विक महामारी कोविड-19 से मुक्ति के लिए गोवर्धन स्थित शंकराचार्य आश्रम में विगत कई महीनों से लगातार वैदिक अनुष्ठान व महायज्ञ का आयोजन चल रहा है। कोरोना प्रोटोकाल के तहत चल रहे इस यज्ञ में देश के विभिन्न क्षेत्रों के लोग भागीदारी कर रहे हैं। कुछ समय पहले असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और विभिन्न राज्यों के मंत्री व अन्य जनप्रतिनिधि भी आश्रम में पहुंचे थे और महायज्ञ में आहुतियां देकर जगद्गुरु देवतीर्थ का आशीर्वाद लिया था।

कोरोना काल में शंकराचार्य के इस आश्रम द्वारा लगातार प्रभावित लोगों के अलावा गायों और वानरों का सेवा कार्य भी चला जो अभी भी जारी है। विश्वशांति और वैश्विक महामारी कोविड-19 से मुक्ति के लिए वहां चल रहा महायज्ञ का अनुष्ठान भी अभी जारी है।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button

Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129

Close